बाथरूम में नहा रही पत्नी बोली “जरा आकर साबुन रगड़ देना” और फिर…

जैसे जैसे इंसान तरक्की के नये रास्तों को ढूंढ रहा है, वैसे वैसे ही उसकी जिंदगी में तनाव का दौर बढ़ता नजर आ रहा है. अज के इस महंगाई के समय में इंसान अपने व्यपार में इतना बीजी हो गया है कि उसको अपनों के साथ बैठ कर दो पल बिताने का समय भी नहीं मिल पाता. ऐसे में इंसान जी तो रहा है मगर जिंदगी का असली मतलब भूल चुका है. तनाव यानी स्ट्रेस ने इंसान को चारों तरफ से घेर लिया है. जिसके चलते वह खुल कर आखिर बार कब हँसा होगा वह खुद भी नहीं जनता.

इसी के चलते आज हम आपके तनाव को कम करने के लिए आपके लिए कुछ मजेदार एवं नॉन वेज जोक्स लेकर आये हैं. ते हमारी वेबसाइट की तरफ से आपके तनाव को दूर करने की एक छोटी सी पहल है उम्मीद है आपको पसंद आएगी.