हॉस्टल की बेटियों के साथ कुछ हो रहा था ऐसा कि एसडीएम पहुंचे तो नज़र देख सन्न रह गये!

देश मे बेटियों को पढ़ाने और आगे बढ़ाने के मकसद से न जाने उनके हित मे कितने सारे कार्यक्रम चलाए जा रहे है परंतु प्रशासनिक अधिकारियों की लापरवाही की वजह से यह सारे कार्यक्रम धरातल पर उतारने से पहले ही अपना दम तोड़ते हुए दिखाई देते है इसी का जीता जागता उदाहरण है यह घटना। हाल में ही बैकुंठपुर के जिला प्रशासन को ऐसी खबर मिल रही थी कि बेटियों के हित में चलाए जा रहे कार्यक्रम का लाभ उन्हें नही मिल पा रहा है वही दूसरी ओर लाभ के बदले उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है। इस गंभीर घटना कि जब एसडीएम के द्वारा जांच की गई तो लोगों के सामने आई ऐसी सच्चाई जिसे सुनकर हर कोई हैरान रह गया।